सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

July, 2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

विभिन्न व्यूह रचना

२१ जुलाई २०१२, ठीक अपने जन्मदिन के दिन मैं अपने एक मित्र प्रशांत साहू के साथ हरियाणा के कुरुक्षेत्र में भ्रमण के लिए गया था। वहाँ विज्ञान भवन में एक पूरा हिस्सा महाभारत को समर्पित था। वही मैंने महाभारत में प्रयोग किये गए इन व्यूहों का चित्र देखा। वैसे तो इसका चित्र लेना प्रतिबंधित था किन्तु फिर मैंने जब सुरक्षा अधिकारीयों को धर्मसंसार के बारे में बताया तब उन्होंने इन चित्रों को लेने की अनुमति दे दी। दुर्भाग्य से उस समय मेरा मोबाइल कैमरा बहुत अच्छा नहीं था और अँधेरा भी बहुत था, इसी लिए चित्र बहुत साफ़ नहीं आये हैं किन्तु काम चलाने लायक तो हैं। मैं कुरुक्षेत्र विज्ञान भवन प्रबंधन का हार्दिक धन्यवाद अदा करता हूँ। उसी जगह अति प्राचीन विश्व के नक्शों पर भारत की स्थिति का चित्र मिला था जिसे आप यहाँ देख सकते हैं।

अति प्राचीन विश्व के नक्शों पर भारत की स्थिति

२१ जुलाई २०१२, ठीक अपने जन्मदिन के दिन मैं अपने एक मित्र प्रशांत साहू के साथ हरियाणा के कुरुक्षेत्र में भ्रमण के लिए गया था। वहाँ विज्ञान भवन में एक पूरा हिस्सा महाभारत को समर्पित था। वही मैंने इन दुर्लभ नक्शों को देखा। वैसे तो इसका चित्र लेना प्रतिबंधित था किन्तु फिर मैंने जब सुरक्षा अधिकारीयों को धर्मसंसार के बारे में बताया तब उन्होंने इन चित्रों को लेने की अनुमति दे दी। दुर्भाग्य से उस समय मेरा मोबाइल कैमरा बहुत अच्छा नहीं था और अँधेरा भी बहुत था, इसी लिए चित्र बहुत साफ़ नहीं आये हैं किन्तु काम चलाने लायक तो हैं। मैं कुरुक्षेत्र विज्ञान भवन प्रबंधन का हार्दिक धन्यवाद अदा करता हूँ। इसी जगह मैंने महाभारत में प्रयोग किये गए व्यूहों का चित्र भी देखा जिसे आप यहाँ देख सकते हैं।