हमारे बारे में


धर्म संसार की स्थापना नीलाभ वर्मा ने २१ जुलाई २००९ को भागलपुर (बिहार) में की थी। इसे भारत का सबसे पहला धार्मिक ब्लॉग होने का गौरव प्राप्त है। इसकी स्थापना का केवल एक उद्देश्य है कि हमारे महान देश की महान संस्कृति को समस्त विश्व के लोगों तक पहुँचे। ये बताते हुए बड़ी प्रसन्नता और गर्व होता है कि आज धर्म संसार के पाठक केवल ना केवल भारत में बल्कि विश्व के कई देशों में हैं। हमारा एकमात्र लक्ष्य इस वेबसाइट को विश्व का अग्रणी धार्मिक वेबसाइट बनाना है और इस लक्ष्य को हम बिना आपकी सहायता के प्राप्त नहीं कर सकते हैं। तो आइये हम और आप मिलकर धर्म संसार के माध्यम द्वारा अपने देश की संस्कृति को विश्व के कोने-कोने में पहुँचायें। 

अगर आपको ये वेबसाइट पसंद हो तो आप इसे और बढ़ाने के लिए हमें अपना सहयोग दे सकते हैं। फेसबुक और यूट्यूब के लिंक के लिए संपर्क पृष्ठ पर जाएँ।

धर्म संसार के बारे में अधिक से अधिक लोगों को बताएं, इससे सरल और बड़ी सहायता और कुछ नहीं हो सकती है।

धर्म संसार वेबसाइट का अनुसरण करें। 

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। 

धर्म संसार के फेसबुक पेज को लाइक करें और अपने मित्रों को इस पेज को लाइक करने के लिए आमंत्रित करें। 

धर्म संसार के फेसबुक ग्रुप से जुड़ें और अधिक से अधिक लोगों को इस ग्रुप में जोड़ें। अगर आप इसके सदस्य हैं तो आप भी यहाँ अपने लेख प्रकाशित कर सकते हैं। 

अगर आपके पास कोई धार्मिक कहानी या लेख है तो आप हमें मेल कर सकते हैं, वो लेख आपके नाम से धर्म संसार पर प्रकाशित किया जायेगा। ध्यान रहे कि लेख मौलिक हो, धर्म से सम्बंधित हो और केवल हिंदी भाषा में हो।

आपके सहयोग और प्रेम के लिए हार्दिक आभार।

धर्म संसार टीम